पूर्वी लद्दाख में सीमा पर हिंसक झड़प में भारतीय जवानों की शहादत को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है। लोग चीन से बदला लेने और चीनी वस्तुओं के बहिष्कार करने की बात कर रहे हैं।
JCB पर चढ़ गए पप्पू यादव, फिर चीनी कंपनी के विज्ञापन पर पोती कालिख

Patna. पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में सीमा पर हिंसक झड़प (Violent Clashes) में भारतीय जवानों (Indian Soldiers) की शहादत को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है। लोग चीन से बदला लेने और चीनी वस्तुओं (Chinese Items) के बहिष्कार करने की बात कर रहे हैं। इसी कड़ी में बिहार (Bihar) की जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव (Pappu Yadav) सड़क पर उतरे और विरोध जताते हुए चीनी कंपनी (Chinese Company) के विज्ञापन पर कालिख पोत दी।

बता दें कि चीन से झड़प में शहीद हुए 20 जवान में से 6 जवान बिहार के मूल निवासी थे। जवानों की शहादत पर बिहार के लोगों में चीन (China) के खिलाफ काफी गुस्सा है। वहीं, पूर्व सांसद पप्पू यादव (Former MP Pappu Yadav) चीन के विरोध में पटना की सड़कों पर उतरे। इस दौरान उन्होंने जेसीबी पर चढ़कर सड़क किनारे लगे चीनी कंपनी के विज्ञापन पर कालिख पोत दी।

इस दौरान पप्पू यादव ने कहा कि वह सभी अभिनेताओं (Actors) और क्रिकेटरों (Cricketers) से भी अपील करते हैं कि आप सभी चीन की कंपनियों का विज्ञापन न करें। साथ ही उन्होंने जनता और व्यपारियों से चीनी वस्तुओं का बहिष्कार करने की अपील की।

रेलवे और बीएसएनएल ने चीन को दिया झटका

सीमा पर झड़प के बाद अब चीन (China) की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। भारतीय रेलवे (Indian Railway) के डेडिकेटेड फ्राइड कॉरिडोर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (DFCCIL) ने चीन के साथ अपना कॉन्ट्रैक्ट रद्द करने का फैसला किया है। सिग्नल लगाने का कॉन्ट्रैक्ट बीजिंग के नेशनल रेलवे रिसर्च एंड डिजाइन इंस्टीट्यूट ऑफ सिग्नल एंड कॉम्युनिकेशन को 2016 में दिया गया था।

इससे पहले टेलीकॉम मंत्रालय (Telecom Ministry) ने बीएसएनएल (BSNL) को चीनी कंपनियों के उपकरणों की उपयोगिता को कम करने का निर्देश दिया है। मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि अपने कामों में चीनी कंपनियों की उपयोगिता को कम करे।