उत्तर प्रदेश में जोर पकड़ रहे मॉनसून की वजह से बुधवार को राज्य के अनेक पूर्वी हिस्सों को जमकर बारिश हुई।
उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्से में मॉनसून सक्रिय, कई इलाकों में झमाझम बारिश का सिलसिला हुआ शुरू

Lucknow. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में जोर पकड़ रहे मॉनसून (monsoon) की वजह से बुधवार को राज्य के अनेक पूर्वी हिस्सों को जमकर बारिश हुई। प्रदेश के खासकर पूर्वी हिस्सों में कई स्थानों पर सुबह से ही झमाझम बारिश का सिलसिला शुरू हो गया जो दोपहर बाद तक जारी रहा। इस बारिश की वजह से मौसम सुहावना हो गया और लोगों को पिछले कई दिनों से पड़ रही चिपचिपी गर्मी से राहत मिली।

आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में मॉनसून पूरी तरह सक्रिय है। हालांकि पश्चिमी भागों में इसने अभी रफ्तार नहीं पकड़ी है। राज्य के पूर्वी हिस्सों में कुछ स्थानों पर बुधवार को भारी से बहुत भारी वर्षा भी हुई। इस दौरान बस्ती में सबसे ज्यादा 33 सेंटीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई। इसके अलावा हरैया में 12, बांसी में 9, तरबगंज और सिराथू में आठ-आठ, अयोध्या, अकबरपुर, चंद्रदीप घाट, गोंडा और भिनगा में सात-सात, बहराइच और इलाहाबाद में छह-छह तथा वाराणसी और बीकापुर में पांच-पांच सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई।

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के गोरखपुर, फैजाबाद (Faizabad) तथा इलाहाबाद (Allahabad) मंडलों में दिन के तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गई। वाराणसी, फैजाबाद तथा इलाहाबाद मंडलों में अधिकतम तापमान सामान्य से काफी नीचे रहा। इस अवधि में झांसी राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा, जहां अधिकतम तापमान 41.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में अनेक स्थानों पर जबकि पश्चिमी भागों में कुछ जगहों पर बारिश होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। कुछ स्थानों पर तेज हवा के साथ गरज-चमक की स्थितियां बन सकती हैं। उसके बाद मानसून और जोर पकड़ेगा। आगामी 19 और 20 जून को प्रदेश के कई इलाकों में बारिश हो सकती है।