उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आगामी 1 जुलाई से शुरू हो रहे वन महोत्सव के अवसर पर 25 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
प्रदेश में वन महोत्सव के साथ 1 जुलाई से वृक्षारोपण की शुरुआत

पौधशालाओं में विभिन्न प्रजातियों के 44 करोड़ पौधे तैयार

LUCKNOW. उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आगामी 1 जुलाई से शुरू हो रहे वन महोत्सव के अवसर पर 25 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसकी प्राप्ति के लिए गांव-गांव जाकर 57903 माइक्रोप्लान तैयार किये गये हैं। माइक्रोप्लान के अनुसार मांग के अनुरूप सहजन, सागौन, शीशम, फाइकस, कंजी, अर्जुन, खैर, फलदार तथा अन्य प्रजातियों के लगभग 44 करोड़ से अधिक पौधे पौधशालाओं में तैयार किये गये हैं।

 यह जानकारी मुख्य वन संरक्षक मुकेश कुमार ने दी। उन्होंने बताया कि वृक्षारोपण के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन हेतु तैयार की गई कार्य योजना के अनुरूप विभिन्न कार्यों के निस्पादन हेतु कुशल अधिकारियों की अलग-अलग टीम गठित की गई है। उन्होंने बताय कि पौधरोपण से प्रदेश में हरीतिमा वृद्धि के साथ-साथ पर्यावरण संतुलन स्थापित होगा और स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।

कृषकों को पौधे निःशुल्क वितरित किए जायेंगे

 मुकेश कुमार ने बताया कि किसानों को पौधे निःशुल्क वितरित किए जायेंगे। इसके अलावा प्रदेश के समस्त शासकीय विभागों,  न्यायालय परिसरों, संस्थाओं, निजी और शासकीय शिक्षण संस्थाओं, भारत सरकार के विभाग एवं उपक्रमों में भी वृक्षारोपण के लिए निःशुल्क पौधे दिये जायेंगे। साथ ही ग्राम पंचायत, नगर पंचायत, नगर निगम, नगर पालिका परिषद, प्राधिकरण, रेलवे, रक्षा, औद्योगिक इकाइयों, सहकारी समितियों आदि को पौधशालाओं से निःशुल्क पौधे उपलब्ध कराये जायेंगे।